मुहावरे की परिभाषा || उदाहरण सहित वाक्य में प्रयोग
मुहावरे की परिभाषा || उदाहरण सहित वाक्य में प्रयोग

मुहावरे की परिभाषा || उदाहरण सहित वाक्य में प्रयोग

ऐसे सुगठित शब्द समूह जिनसे लक्षणाजन्य और कभी कभी व्यंजनाजन्य कुछ विशिष्ट अर्थ निकलता है मुहावरा कहलाते हैं। ये शब्द समूह कई बार व्यंग्यात्मक भी हो सकते है। मुहावरे किसी भाषा को जीवंत, रंगीन और सरस बना देती है। इनके प्रयोग से भाषा प्रभावशाली, गतिशील और रोचक बन जाती है। मुहावरे की परिभाषा

 ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी के अनुसार मुहावरे की परिभाषा

“किसी भाषा की अभिव्यंजना के विशिष्ट रूप को ‘मुहावरा’ कहते हैं। एक अन्य पक्ष है कि विशिष्ट शब्दों विचित्र प्रयोगों एवं प्रयोग-सिद्ध विशिष्ट वाक्यांशों वाक्य-पद्धति को ‘मुहावरा’ कहते हैं।”

मुहावरे भाषा और वाक्य को स्पष्ट और चित्रमय बनाते हैं। मुहावरे किसी न किसी व्यक्ति के अनुभव पर आधारित होते हैं। मुहावरों के शब्दों की अपनी अहमियत होती है और ये ज्यों के त्यों वाक्य में प्रयुक्त होते हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो मुहावरों में प्रयुक्त शब्दों को उन्हीं के पर्यायवाची शब्दों से बदल कर प्रयोग किया जाय तो न केवल उसकी खूबसूरती समाप्त हो जाती है बल्कि उनके अर्थ भी बदल जाते हैं। उदहारण के लिए पानी पानी होना की जगह जल जल होना प्रयोग करें तो वाक्य का सौंदर्य और भाव दोनों समाप्त हो जायेगा।

यह भी पढ़ें: ताप किसे कहते है ? || तापमापी किसे कहते है ?

मुहावरों के पर्यावाची 

मुहावरा मूल रूप से अरबी भाषा के शब्द है जिसका अर्थ होता है बातचीत करना या उत्तर देना।

मुहावरा का समानार्थक शब्द के मामले में अलग अलग विद्वानों की अलग अलग राय है। संस्कृत भाषा में कुछ लोग इसके लिए प्रयुक्तता, वागृति, वाग्धारा या भाषा संप्रदाय प्रयोग करते हैं।

वी एस आप्टे ने अपने इंग्लिश संस्कृत कोश में इसका अर्थ वाक पद्धति, वाक रीति, वाक् व्यवहार और विशिष्ट स्वरुप लिखा है।

पराड़कर ने वाक् संप्रदाय को मुहावरे के पर्यावाची के रूप में स्वीकार किया है।

काका कालेलकर वाक् प्रचार को मुहावरे के लिए रूढ़ि शब्द के रूप में अपनी अनुशंसा की है।

अंग्रेजी भाषा में इसके लिए इडियम शब्द का प्रयोग होता है।

इसे भी पढ़े: ऊष्मा किसे कहते हैं ? || और कितने प्रकार की होती है ?

मुहावरे और उनके अर्थ || मुहावरे की विशेषताएं

➤➤मुहावरे का प्रयोग वाक्य के प्रसंग में होता है, अलग नही। जैसे, कोई कहे कि ‘पेट काटना’ तो इससे कोई विलक्षण अर्थ प्रकट नही होता है। इसके विपरीत, कोई कहे कि ‘मैने पेट काटकर’ अपने लड़के को पढ़ाया, तो वाक्य के अर्थ में लाक्षणिकता, लालित्य और प्रवाह उत्पत्र होगा।

➤➤मुहावरा अपना असली रूप कभी नही बदलता अर्थात उसे पर्यायवाची शब्दों में अनूदित नही किया जा सकता। जैसे- कमर टूटना एक मुहावरा है, लेकिन स्थान पर कटिभंग जैसे शब्द का प्रयोग गलत होगा।

➤➤मुहावरे का शब्दार्थ नहीं, उसका अवबोधक अर्थ ही ग्रहण किया जाता है; जैसे- ‘खिचड़ी पकाना’। ये दोनों शब्द जब मुहावरे के रूप में प्रयुक्त होंगे, तब इनका शब्दार्थ कोई काम न देगा। लेकिन, वाक्य में जब इन शब्दों का प्रयोग होगा, तब अवबोधक अर्थ होगा- ‘गुप्तरूप से सलाह करना’।

➤➤मुहावरे का अर्थ प्रसंग के अनुसार होता है। जैसे- ‘लड़ाई में खेत आना’ । इसका अर्थ ‘युद्ध में शहीद हो जाना’ है, न कि लड़ाई के स्थान पर किसी ‘खेत’ का चला आना।

➤➤मुहावरे भाषा की समृद्धि और सभ्यता के विकास के मापक है। इनकी अधिकता अथवा न्यूनता से भाषा के बोलनेवालों के श्रम, सामाजिक सम्बन्ध, औद्योगिक स्थिति, भाषा-निर्माण की शक्ति, सांस्कृतिक योग्यता, अध्ययन, मनन और आमोदक भाव, सबका एक साथ पता चलता है। जो समाज जितना अधिक व्यवहारिक और कर्मठ होगा, उसकी भाषा में इनका प्रयोग उतना ही अधिक होगा।

➤➤समाज और देश की तरह मुहावरे भी बनते-बिगड़ते हैं। नये समाज के साथ नये मुहावरे बनते है। प्रचलित मुहावरों का वैज्ञानिक अध्ययन करने पर यह स्पष्ट हो जायेगा कि हमारे सामाजिक जीवन का विकास कितना हुआ। मशीन युग के मुहावरों और सामन्तवादी युग के मुहावरों तथा उनके प्रयोग में बड़ा अन्तर है।

मुहावरे और उनके अर्थ || मुहावरे एवं उनके वाक्यों में प्रयोग

मुहावरा – अक्ल पर पत्थर पड़ना
अर्थ – बुद्धि से काम न लेना

मुहावरा – अगर मगर करना
अर्थ – बहाना बनाना, टालमटोल करना

मुहावरा – अंग अंग ढीला होना
अर्थ – बहुत थक जाना

मुहावरा – अंगारे उगलना
अर्थ – अत्यधिक क्रोधित होना

मुहावरा – अंक में भरना/ अंग लगाना
अर्थ – गले लगाना/आलिंगन करना

मुहावरा – अंगारे उगलना
अर्थ – बहुत गर्मी पड़ना

मुहावरा – अंगूठा दिखाना
अर्थ – कार्य करने से साफ मना करना

मुहावरा – अंत पाना
अर्थ – भेद जानना

मुहावरा – अंतर बनाना
अर्थ – परलोक बनाना

मुहावरा – अंत बिगड़ना
अर्थ – परलोक बिगड़ना

मुहावरा – अंधे की लकड़ी
अर्थ – एक मात्र सहारा

मुहावरा – अंधेरे घर का चिराग
अर्थ – इकलौता पुत्र

मुहावरा – अक्ल चरने जाना
अर्थ – बुद्धि गाना होना

मुहावरा – अपना सा मुंह लेकर रह जाना
अर्थ – लज्जित होना

मुहावरा – अपना उल्लू सीधा करना
अर्थ – अपना मतलब निकालना

मुहावरा – अपनी खिचड़ी अलग पकाना
अर्थ – साथ मिलकर ना रहना

मुहावरा – अपने मुंह मियां मिट्ठू पकाना
अर्थ – अपनी प्रशंसा स्वयं करना

मुहावरा – अपने पांव पर कुल्हाड़ी मारना
अर्थ – अपनी हानि स्वयं कर

मुहावरा – अक्ल का दुश्मन
अर्थ – मूर्ख, नासमझ

मुहावरा – आंखें चुराना
अर्थ – अनदेखा करना

मुहावरा – आंखें बिछाना
अर्थ – बहुत आदर सम्मान करना

मुहावरा – अच्छे दिन आना
अर्थ – भाग्य खुल जाना

मुहावरा – अपना राग अलापना
अर्थ – किसी की ना सुनना / अपनी बात पर अड़े रहना

मुहावरा – अक्ल का पुतला
अर्थ – बुद्धिमान

मुहावरा – अरमान निकालना
अर्थ – मनोरथ पूरा करना

मुहावरा – आंख उठाना
अर्थ – हानि पहुंचाने की कोशिश करना / बुरी तरह देखना

मुहावरा – आंख उठाकर न देखना
अर्थ – परवाह न करना

मुहावरा – आंख मारना
अर्थ – इशारा करना

मुहावरे की परिभाषा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here